Romantic Shayari in Hindi for love

Romantic Shayari in Hindi for love | 2 Line Shayari | sms Shayari

Nowadays, Internet is flooded with Shero-Shayari websites. Romantic Shayari in Hindi for love People are seeking Shayaris of their choice to share on social media. But finding a new and best Shayari is very difficult. Don’t worry Shayari Lovers, We have done some work and prepare a heart touching collection of Hindi Shayari, Hindi SMS and Hindi Status.

You can read here your favourite shayari according to your feelings like love, sad, funny, romantic, patriotism, painful, motivation about life etc. These Poetry and Couplets can be shared with your friends, relative, boyfriend, girlfriend, husband, wife or as you want. Hope you will like this Hindi Poetry Collection.


Mere Hontho Par Lafz Bhi – Romantic Shayari in Hindi for love


Mere Hontho Par Lafz Bhi Ab Teri Talab Leke Aate Hain,
Tere Jikr Se Mahkte Hain Tere Sajde Me Bikahar Jate Hain.

मेरे होंठो पर लफ्ज़ भी अब तेरी तलब लेकर आते हैं,
तेरे जिक्र से महकते हैं तेरे सजदे में बिखर जाते हैं।


Wo Pila Kar Jaam Hontho Se Apni Mohabbat Ka,
Ab Kahte Hain Nashe Ki Adat Achhi Nahi Hoti.

वो पिला कर जाम होंठो से अपनी मोहब्बत का,
अब कहते हैं नशे की आदत अच्छी नहीं होती।


Wo Surkh Lab Aur Un Par Jalim Angdaiyan,
Tu Hi Bata Ye Dil Marta Na To Kya Karta.

वो सुर्ख लब और उनपर जालिम अंगडाईयां,
तू ही बता ये दिल मरता ना तो क्या करता।


Baithe Raho Saamne Dil Ko Qaraar Aayega,
Jitnaa Dekhenge Tumhe Utnaa Hi Pyar Aayega.

बैठे रहो सामने दिल को करार आयेगा,
जितना देखेंगे तुम्हे उतना ही प्यार आयेगा।


Chahat Itni Rakho Ki Jee Sabhal Jaye, Ab
Is Kadar Bhi Na Chaaho Ki Dam Nikal Jaaye.

चाहत इतनी रखो की जी सभल जाए , अब
इस कदर भी ना चाहो कि दम निकल जाये।


Door Hokar Bhi Jo Shakhs Samaya Hai Meri Rooh Mein,
Paas Vaalon Par Vo Kitna Asar Rakhta Hoga.

दूर होकर भी जो शख्स समाया है मेरी रूह में,
पास वालों पर वो कितना असर रखता होगा।


उनकी उदास आँखों में करार देखा है,
पहली बार उन्हें ऐसे बेकरार देखा है,
जिन्हें खबर ना होती थी मेरे आने की,
उनकी आँखों में अब इंतज़ार देखा है।

Unki Aankhon Mein Karaar Dekha Hai,
Pehli Baar Unhein Aise BeKaraar Dekha Hai,
Jinhein Khabar Na Hoti Thi Mere Aane Ki,
Unki Aankho Mein Ab Intezaar Dekha Hai.


Ruka Hua Hai Azab – Romantic Shayari in Hindi for love


रुका हुआ है अज़ब धूप-छाँव का मौसम,
गुजर रहा है कोई दिल से बादलों की तरह।
Ruka Hua Hai Azab Dhoop-Chhanv Ka Mausam,
Gujar Raha Hai Koi Dil Se Baadalon Ki Tarah.


की है कोई हसीन खता हर खता के साथ,
थोड़ा सा प्यार भी मुझे दे दो सज़ा के साथ।
Kee Hai Koi Haseen Khata Har Khata Ke Saath,
Thoda Sa Pyar Bhi Mujhe De Do Saza Ke Saath.


फितरत, सोच और हालात का फर्क है वरना,
इन्सान कैसा भी हो दिल का बुरा नहीं होता।

Fitrat, Soch, Aur Halaat Ka Fark Hai Verna,
Insaan Kaisa Bhi Ho Dil Ka Bura Nahi Hota.


जब भी साथ बिताया वक़्त याद आता है,
मेरी पलकों पर बहते आँसू छोड़ जाता है,
कोई और मिल जाये तो हमें न भूल जाना,
दोस्ती का रिश्ता जिंदगी भर काम आता है।

Jab Bhi Saath Bitaya Waqt Yaad Aata Hai,
Meri Palko Par Bahte Aansoo Chhod Jata Hai,
Koi Aur Mil Jaye Toh Humein Na Bhul Jana
Dosti Ka Rishta Zindagi Bhar Kaam Aata Hai.


मजबूरियाँ सारी हम दिल में छिपा लेते हैं,
हम कहाँ रोते हैं हमारे हालात रुला देते हैं,
हम तो हर पल याद करते हैं सिर्फ आपको,
और आप भुला देने का इल्जाम लगा देते हैं।

Majbooriyan Saari Hum Dil Mein Chhupa Lete Hain,
Hum Kahan Rote Hain Humare Halaat Rula Dete Hain,
Hum To Har Pal Yaad Karte Hain Sirf Aapko,
Aur Aap Bhula Dene Ka Ilzam Laga Dete Hain.


Hindi Dil Shayari, Pehloo Mein Dil – Romantic Shayari in Hindi for love


जब कभी धोखा मिल जाता है प्यार में,
जिंदगी में एक उदासी छा जाती है,
सोचते हैं छोड़ देंगे इस ज़ालिम दुनिया को,
पर तब तक दूसरी पसंद आ जाती है।

Jab Kabhi Dhokha Mil Jata Hai Pyar Mein,
Zindgi Mein Ek Udaasi Chha Jati Hai,
Sochte Hain Chhod Denge Iss Zalim Duniya Ko,
Par Tab Tak Doosari Pasand Aa Jati Hai.


तुझे सोचूं तो पहलू से सरक जाता है दिल मेरा,
मैं दिल पे हाथ रखकर धड़कनों को थाम लेता हूँ।
Tujhe Sochun To Pehlu Se Sarak Jata Hai Dil Mera,
Main Dil Pe Haath Rakhkar Dhadkano Ko Thaam Leta Hoon.


हाल-ए-दिल तो खुल चुका है हर शख्स पर,
हाँ मगर इस शहर में इक बेखबर भी देखा है।
Haal-e-Dil To Khul Chuka Hai Har Shakhs Par,
Haan Magar Iss Shahar Mein Ik Bekhabar Bhi Dekha Hai.


Jaruri Toh Nahi Jeene Ke Liye Sahara Ho,
Jaruri Toh Nahi Hum Jinke Hain Woh Humara Ho,
Kuchh Kashtiya Doob Bhi Jaya Karti Hai,
Jaruri Toh Nahi Har Kashti Ka Kinara Ho.
जरुरी तो नहीं जीने के लिए सहारा हो,
जरुरी तो नहीं हम जिनके हैं वो हमारा हो,
कुछ कश्तियाँ डूब भी जाया करती हैं,
जरुरी तो नहीं हर कश्ती का किनारा हो।


Doosari Pasand Aa Jati Hai


Khamoshi Se Bikharna Aa Gaya Hai,
Humein Ab Khud Ujadna Aa Gaya Hai,
Kisi Ko Bewafa Kehte Nahi Hum,
Humein Bhi Ab Badlna Aa Gaya Hai,
Kisi Ki Yaad Mein Rote Nahi Hum,
Humein Chup Chap Jalna Aa Gaya Hai,
Gulaabon Ko Tum Apne Pass Hi Rakho,
Humein Kaanton Pe Chalna Aa Gaya Hai.

खामोशी से बिखरना आ गया है,
हमें अब खुद उजड़ना आ गया है,
किसी को बेवफा कहते नहीं हम,
हमें भी अब बदलना आ गया है,
किसी की याद में रोते नहीं हम,
हमें चुपचाप जलना आ गया है,
गुलाबों को तुम अपने पास ही रखो,
हमें कांटों पे चलना आ गया है।


Waqt Noor Ko Benoor Kar Deta Hai,
Chhote se Zakhm Ko Nasoor Kar Deta Hai,
Kaun Chahta Hai Apno Se Dur Rehna,
Par Waqt Sabko Majboor Kar Deta Hai.
वक़्त नूर को बेनूर कर देता है,
छोटे से जख्म को नासूर कर देता है,
कौन चाहता है अपनों से दूर रहना,
पर वक़्त सबको मजबूर कर देता है।


Na Jee Bhar Ke Dekha Na Kuchh Baat Ki,
Badi Aarzoo Thi Mulaqat Ki,
न जी भर के देखा न कुछ बात की,
बड़ी आरज़ू थी मुलाक़ात की।


Kayi Saal Se Kuchh Khabar Hii Nahi,
Kahaan Din Gujara Kahaan Raat Ki,
कई साल से कुछ ख़बर ही नहीं,
कहाँ दिन गुज़ारा कहाँ रात की।


Ujalon Ki Pariya Nahane Lagi,
Nadi Gungunayi Khyalat Ki,
उजालों की परियाँ नहाने लगीं,
नदी गुनगुनाई ख़यालात की।


Ek Chehra Jo Mere Khwaab Sajaa Deta Hai,
Mujh Ko Mere Hi Khayaalon Mein Sadaa Deta Hai,
एक चेहरा जो मेरे ख्वाब सजा देता है,
मुझ को मेरे ही ख्यालों में सदा देता है।


Wo Mera Kaun Hai Maloom


Wo Mera Kaun Hai Maloom Nahi Hai Lekin,
Jub Bhi Milta Hai To Pehlu Mein Jagaha Deta Hai,
वो मेरा कौन है मालूम नहीं है लेकिन,
जब भी मिलता है तो पहलू में जगा देता है।


संगमरमर के महल में तेरी तस्वीर सजाऊंगा, अपने इस दिल में तेरे ही
ख्वाब जगाऊंगा, यूँ एक बार आजमा के देख तेरे दिल में बस जाऊंगा, मैं तो
प्यार का हूँ प्यासा तेरे आगोश में मर जाऊॅंगा।


आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है, कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है, था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा, कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है।..
तड़प रहीं हैं मेरी साँसें तुझे महसूस करने को, खुशबू की तरह बिखर जाओ तो कुछ बात बने।..


Hum Hawa Nahi Jo Fizao Me Kho Jaye Waqt Nahi Jo Kuch Pal Me
Guzar Jaye Hum Mausam Bhi Nahi Jo Badal Jaye.. Hum To Aansoo Ki Tarah
Hai, Jo Khushiyo Me Milne Aaye Aur Gam Mein Bhi Saath Nibhaye.


Ishq Tujhse Karti Hu Main Zindagi Se Zyada, Main Darti Nahi
Maut Se Teri Judaai Se Zyada, Chahe Toh Aazmale Mujhe Kisi Aur Se
Zyada, Meri Zindagi Mein Kuch Nahi Teri Mohabbat Se Zyada


पहली मोहब्बत के लिए दिल जिसे चुनता है.
वो अपना हो न हो…दिल पर राज हमेशा उसी का रहता है।
Phli mohabbat ke liye dil jise chunta hai
wo apna ho na ho dil par raj hamesh usi ka rhta hai


कर दे नज़रे करम मुझ पर,
मैं तुझपे ऐतबार कर दूँ,
दीवाना हूँ तेरा ऐसा,
कि दीवानगी की हद को पार कर दूँ,
Kar de najre karm mujh par main tuj par aitbar kar du
Deewana hu tera aisa ki deewangi ki had ko paar kar du


Romantic Shayari in Hindi for love Whatsapp


मुझे उदास देख कर उसने कहा मेरे होते हुए तुम्हे कोई दुःख नहीं दे सकता ,
फिर कुछ ऐसा ही हुआ बाद में जितने भी दुःख मिले सब उसी के हुए
Mujhe Udas dekh kar usne kaha Mere hote huye tumhe koi Dukh nahi de sakta,
phir kuch aisa hi hua Baad mein jitne bhi Dukh mile sab Ussi ke hue


बड़ी उदास है ज़िंदगी तेरे बिन नहीं है कुछ मेरे पास तेरे बिन
अँधेरा हो या हो उजाला .. आता नहीं कुछ बी रास तेरे बिन
Badi Udas Hai Zindgi Tere Bin Nahi H Kuch Mere Paas Tere Bin
Andhera Ho Ya Ho Ujala.. Aata Nahi Kuch B Raas Tere Bin


सकून मिलता है जब उनसे बात होती है, हज़ार रातों में वो एक रात होती है,
निगाह उठाकर जब देखते हैं वो मेरी तरफ, मेरे लिए वो ही पल पूरी कायनात होती है।
Sakun milta hai jab unse baat hoti hai, hjaar rato mein wo ek raat hoti hai,
Nigah uthakar jb dekhte hain wo meri taraf mere liye wo hi pal puri kaynaat hoti hai


मुहब्बत की इन्तिहां न पूछिये, इस प्यार की वजह न पूछिये,
हर सांस मे समाये रहते हो.. कहां बसे हो तुम जगह न पूछिये।
Muhabbat ki inteha na puchiye iss pyaar ki vajah na puchiye
Har saans me smaye rhte ho kaha bse ho tum jagah na puchiye


हर कदम हर पल साथ है , दूर होकर भी हम आपके पास है ,
आपको हो न हो पर हमे आपकी कसम , आपकी कमी का हर पल एहसास है .
Har kadam Har pal saath hai, Dur hokar bhi hum aapke pass hai,
Aapko ho na ho par hume aapki kasam, Aapki kami ka har pal ehsaas hai.


Har Pal Yaad Karte Hain


अपने हसीन होंठों को किसी परदे में छुपा लिया करो,
हम गुस्ताख लोग हैं नज़रों से चूम लिया करते हैं……..!!!


चांद रोज़ छत पर आकर इतराता बहुत था,
कल रात मैंने भी उसे तेरी तस्वीर दिखा दी……..!!!


अजीब सी बेताबी है तेरे बिना,
रह भी लेते है और रहा भी नही जाता…..!!!


तु मिल गई है तो मुझ पे नाराज है खुदा,
कहता है की तु अब कुछ माँगता नहीं है…..!!!


अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे,
हर खवाब मे बुलाया है तुझे,
क्यू न करे याद तुझ को,
जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे……..!!!


दिल की किताब में गुलाब उनका था,
रात की नींद में ख्वाब उनका था,
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा,
मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था……!!!


तेरे हुस्न को परदे की ज़रुरत ही क्या है,
कौन होश में रहता है तुझे देखने के बाद…….!!!


हमारी तडप तो कुछ भी नहीं है हुजुर,
सुना है कि आपके दिदार के लिए तो आइना भी तरसता है……!!!


पूछते थे ना कितना प्यार है हमें तुम से,
लो अब गिन लो… ये बूँदें बारिश की……!!!



Apni dillagi ka alam bayan kaise karen,
apni mohabbat ka izhaar usse kaise karen,
marham to har zakhm ka hota hi hai par koi bataye mujhe,
jo nazar se kisi ke ho ghayal uski dava kaise karen,


अपनी दिल्लगी का आलम बयां कैसे करें,
अपनी मोहब्बत का इज़हार उससे कैसे करें,
मरहम तो हर ज़ख्म का होता ही है पर कोई बताये मुझे,
जो नज़र से किसी के हो घायल उसकी दवा कैसे करें।


Doosari Pasand Aa Jati Hai – Romantic Shayari in Hindi for love


Hokar juda tujhse main kaise rahun,
doori tujhse ek pal bhi kaise sahun,
kab tak deedar hoga tumhara meri nazaron ko,
dil ki bebasi apni main kisi se kaise kahun.

होकर जुदा तुझसे मैं कैसे रहूँ,
दूरी तुझसे एक पल भी कैसे सहूँ,
कब तक दीदार होगा तुम्हारा मेरी नज़रों को,
दिल की बेबसी अपनी मैं किसी से कैसे कहूँ।


Dikhawa Sabhi Karte Hain Wo Hum Nahi, Shayari On Dosti
Dikhawa sabhi karte hain wo hum nahi dikhayenge,

rishte ki kasoti par khare utar kar dikhayenge,

jab bhi man kahe mere dost intehaan le lena mera,

kabhi bhi tumhe gam ka chehara nahi dikahyenge.

दिखावा सभी करते हैं वो हम नहीं दिखाएंगे,

रिश्ते की कसौटी पर खरे उतरकर दिखाएंगे,

जब भी मन कहे मेरे दोस्त इन्तेहाँ ले लेना मेरा,

कभी भी तुम्हे गम का चेहरा नहीं दिखाएंगे।


Sehan na kare sake jo wo dost nahi hota,
sath na de sake jo wo dost nahi hota,
khushi ke pal mein jo sath rahe aur,
mushkil ki ghadi mein jo muh mod le wo dost nahi hota.

सहन न कर सके जो वो दोस्त नहीं होता,
साथ न दे सके जो वो दोस्त नहीं होता,
ख़ुशी के पल में जो साथ रहे और,
मुश्किल की घड़ी में जो मुँह मोड़ ले वो दोस्त नहीं होता।


#RishteShayari #GamShayari #ChehraShayari #KhushiShayari

#MohabbatShayari #IzhaarShayari #ZakhmShayari #NazarShayari

#JudaShayari #DooriShayari #DeedarShayari

 

अगर आपको शायरी अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।
आगे पढ़िए – Latest Beautiful Shayari On Love 2020 with images.

Leave a Reply